Amazing Facts about Rahul Dravid - "The Grate Wall of India"  - राहुल द्रविड़ के बारे में दिलचस्ब बातें

Amazing Facts about Rahul Dravid - "The Grate Wall of India"  - राहुल द्रविड़ के बारे में दिलचस्ब बातें

जब पिच बल्लेबाजी करने के लिए बिलकुल भी अनुकूल ना हो, जब बोल बेट पर ठीक से आ ना रही हो, बेटिंग करने की प्रस्थिति बहोत ही विकट हो तब एसे में सिर्फ एक ही बल्लेबाज का नाम सामने आता है और वो नाम है Rahul Dravid - "The Grate Wall of India".

पूरी दुनिया में भारतीय क्रिकेट की "दिवार" के नाम से मसहुर हुए राहुल द्रविड़ का जन्म भारत के इन्दोर में 11 जनवरी 1973 को हुआ था.

राहुल द्रविड़ ने अपने 16 साल के क्रिकेट करियर में हर वो भूमिका निभाई जो टीम को जित की और लेकर जा सके. वो कभी भी नियमित विकेटकीपर नहीं रहे थे फिर भी टीम की जरुरत के लिए सौरव गांगुली के कहेने पर उन्होंने विकेटकीपर की भूमिका भी बखूबी निभाई थी.

चलिए जानते है भारतीय क्रिकेट के एसे महान खिलाडी के बारे में जिसको मीडिया द्वारा इतनी प्रशंसा हांसिल नहीं हुई थी जिसके वो हकदार थे.

Interesting Facts about Rahul Dravid - राहुल द्रविड़ के बारे में दिलचस्ब बातें
राहुल द्रविड़ भारतीय क्रिकेट की "दिवार" पर एक नजर - Interesting Facts about Rahul Dravid in Hindi

1. राहुल द्रविड़ ने क्रिकेट खेलने की शुरुआत 12 साल की उम्र से की थी. उन्होंने अंडर 15 से लेकर अंडर 19 तक कर्नाटक का प्रतिनिधित्व किया था.

2. 3 अप्रैल, 1996 को राहुल द्रविड़ को भारत की तरफ से अपना पहेला वन डे मैच खेलने को मिला और इसी साल जून महीने में टेस्ट में भी डेब्यू किया.

3. डेब्यू मैच में द्रविड़ ने 95 रन बनाए थे लेकिन इसी मैच में डेब्यू कर रहे सौरव गांगुली ने इस मैच में सतक लगाया था इसके कारन राहुल द्रविड़ के 95 रन फीके पड गए थे और इनके बारे में ज्यादा बहोत बाते नहीं हुई थी.

4. एक बार फिर से राहुल द्रविड़ ने अपने वन डे करियर की सर्वश्रेष्ठ पारी खेलते हुए 145 रन बनाए थे लेकिन इस बार भी उनके साथ खेल रहे सौरव गांगुली ने 183 रन ठोक दिए जिसके कारन द्रविड़ की वो पारी फिक्की पड गई.

5. इसके ठीक 10 महीने बाद द्रविड़ ने वन डे में 153 रन बनाए लेकिन एक बार फिर से गलत वक्त साबित हुआ और सचिन तेंदुलकर ने 186 रन की नाबाद पारी खेली जिसके कारन सारा limelight सचिन को चला गया.

6. बात है 2007 के वर्ल्ड कप की जब भारतीय टीम ने सबसे ख़राब प्रदशन किया था तब दुर्भाग्यवश राहुल द्रविड़ ही इस टीम के कप्तान थे.

राहुल द्रविड़ भारतीय क्रिकेट की "दिवार" पर एक नजर - Interesting Facts about Rahul Dravid in Hindi

7. जब भारतीय टीम इंग्लैंड के दौरे पर गई थी तब लगातार सभी टेस्ट हार रही थी, चोथी टेस्ट में तो भारतीय टीम सर्मनाक तरीके से हार ने वाली थी. इस मैच में इंग्लैंड ने पहेली बेटिंग करते हुए 591 रन बनाकर दाव डिक्लेर किया था जवाब में भारत की पहेली इनिंग सिर्फ 300 रन में ही सिमट गई थी, इस मैच में राहुल द्रविड़ ने नाबाद 146 रन की पारी खेलकर भारत को शर्मिंदा होने से बचाया था.

8. एसा नहीं था की वो हमेशा धीरे ही खेलते थे, एक बार न्यूजीलैंड के खिलाफ सिर्फ 22 गेंदों में अपना अर्धशतक पूरा किया था.

9. वो एक एसे महान खिलाडी थे जिसने अपने 16 साल के करियर में किसी भी देश के खिलाडी के साथ भेदभाव नहीं किया था और कसी भी तरह खराब वर्तन नहीं किया था.

10. एक बार केविन पीटरसन से राहुल द्रविड़ का संपर्क किया था जब उनको स्पिनर को खेलने में बहोत ही दिक्कत का सामना करना पड़ता था, तब द्रविड़ ने ही पीटरसन की सहायता की थी.

11. राहुल द्रविड़ को भारतीय टीम के कोचिंग की ऑफर दी गई थी लेकिन उन्होंने मना कर दिया क्यूंकि वो चाहते थे की भारतीय टीम में आने वाले युवा खिलाडी मजबूत हो, जिसके कारन वो अंडर 19 टीम के कोच पर बने रहे.

12. राहुल द्रविड़ की महानता इसी बात से साबित होती है की एक बार ब्रायन लारा ने कहा था की यदि मुझे एसे इन्सान को चुनना है जो मेरी जगह बल्लेबाजी करे तो वो है राहुल द्रविड़ और जैक कालिस.

13. एक बार स्टीव वो ने भी कहा था की यदि द्रविड़ को आउट करना है तो पहेले 15 मिनट में ही उनका विकेट लेलो अन्यथा दुसरे खिलाडी को आउट करने के बारे में सोचो.

14. सचिन तेंडुलकर ने कहा था, की द्रविड़ नए खिलाडियो के लिए एक रोल मॉडल है. उसने हम सभी के लिए एक महान उदहारण पेस किया है.

15. राहुल द्रविड़ एक एसा खिलाडी है जो टूटी हुई काच पर चल देंगा यदि उनकी टीम उनको एसा करने के लिए कहेगी - नवजोत सिंह सिद्धू.

16. कपिल देव ने भी कहा था की इस दौर में बिना किसी शक के राहुल द्रविड़ ही भारत का सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज है.

17. राहुल द्रविड़ दुनिया का सबसे अच्छा इन्सान है जिसको में क्रिकेट में मिला हु - Shane Watson.

18. राहुल द्रविड़ कितना शांत खिलाडी था यह बात आपको बताते हुए ब्रेट ली ने कहा था की यदि आप राहुल द्रविड़ के साथ अच्छे से नहीं रहे सकते हो, तो आप लाइफ में स्ट्रगल कर रहे हो - Brett Lee.

19. अगर कोई एक भारतीय 90 के दशक की ऑस्ट्रलिया की टीम में सीधी जगह पा सकता है तो वो सिर्फ और सिर्फ राहुल द्रविड़ ही है. - Glen McGrath

20. 25 जनवरी 2017 को जब बेंगलुरु यूनिवर्सिटी ने राहुल द्रविड़ को Doctorate की उपाधि देनी चाही तब राहुल द्रविड़ ने यह उपाधि लेने से मना किया और कहा की एसी महान उपाधि कमाकर कर हांसिल की जाती है.

21. राहुल द्रविड़ के नाम टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा बॉल खेलने का वर्ल्ड रिकॉर्ड है. उन्होंने अपने इंटरनेशनल टेस्ट करियर में 29,437 बॉल्स का सामना किया है जो किसी भी बल्लेबाज द्वारा खेली गई सबसे ज्यादा गेंदे है.

22. राहुल द्रविड़ जैसे महान खिलाडी को एक बहोत ही अच्छी विदाय मिलनी चाहिए थी लेकिन उनको वो विदाई नहीं मिले जिनके वो हक़दार थे. 

जब 11 नवम्बर 2013 को Champion league के फाइनल में राहुल द्रविड़ ने IPL से भी सन्यास की घोषणा की उसी दिन सचिन तेंदुलकर का भी आखरी इंटरनेशनल मैच था जिसकी वजह से एक बार फिर से देश के सभी लोगो का ध्यान सिर्फ सचिन तेंदुलकर की और ही चला गया और द्रविड़ की विदाई पर किसीका ध्यान ही नहीं गया.

में भी भारतीय क्रिकेट टीम का एक बहोत ही बड़ा फैन रहा हु, राहुल द्रविड़, सचिन, सहेवाग, लक्षमन, सौरव, युवराज ये सभी मेरे पसंदीदा खिलाडी रहे है लेकिन राहुल द्रविड़ जैसा निःस्वार्थ खिलाडी विश्व क्रिकेट में आजतक कोई भी पैदा नहीं हुआ है.

राहुल द्रविड़ सही मायने में एक बहेतरीन खिलाडी के साथ-साथ एक बहेतरीन इन्सान भी है, इसे इन्सान पर हम सभी को आदर होना चाहिए.

कृपया राहुल द्रविड़ भारतीय क्रिकेट की "दिवार" पर एक नजर - Interesting Facts about Rahul Dravid आर्टिकल को ज्यादा से ज्यादा शेयर जरुर करे ताकि भारत के ऐसे महान खिलाडी की बातों के बारे में सबको पता चल सके.

यह भी पढ़े:-

  1. युवराज सिंह का क्रिकेट सफ़र
  2. सुधा चन्द्रन की सफलता की कहानी
  3. कहानी उस बहादुर लड़की की जिन्होंने जिन्दगी को बोझ नहीं समजा
  4. मेवाड़ का वीर योध्दा महाराणा प्रताप