Forest Spotted Owlet in Hindi – जाने भारत के सबसे दुर्लभ पक्षी चित्तीदार उल्लू के बारे में

Information and Facts about Forest Spotted Owlet in Hindi

Spotted Owlet in Hindi भारत में पाए जाने वाला एक बहुत ही दुर्लभ पक्षी है. यह पक्षी एक समय में भारत के सभी हिस्सों में पाया जाता था पर आज इस पक्षी देखना बहुत ही दुर्लभ हो गया है. चित्तीदार उल्लू को अंग्रेजी में Spotted Owlet और गुजराती में “चीबरी” कहा जाता है.

Spotted Owlet in Hindi उल्लू की ही प्रजाति का पक्षी है पर यह उल्लू से अलग है. इसको छोटा उल्लू भी कहा जाता है. चित्तीदार उल्लू एक समय में पुरे एशिया में पाया जाता था. यह पेड़ में घोंसला बनाकर रहता है. चलिए जानते है चित्तीदार उल्लू विलुप्तप्राय पक्षी में कैसे आया?

जाने भारत के सबसे दुर्लभ पक्षी चित्तीदार उल्लू के बारे में,Information and Facts about Forest Spotted Owlet in Hindi

Information  about Spotted Owlet in Hindi – चित्तीदार उल्लू दुर्लभ कैसे हो गया?

एक समय था जब भारत के महाराष्ट्र राज्य को owlet पक्षी का गढ़ माना जाता था, खास करके महाराष्ट्र के तोरणमल जंगल में इसका निवास था. यह पक्षी ज्यादातर वन और जंगल में रहना पसंद करता है.

महाराष्ट्र के बाद Forest Spotted Owlet in Hindi भारत के छत्तीसगढ़ और मध्यप्रदेश में भी भारी मात्रा में पाए जाते थे. लेकिन पिछले 50 सालों से भारी मात्रा में जंगल की कटाई के कारन यहाँ पर भी यह पक्षी देखने को नहीं मिलता है.

भारत में 19 मी सदी में England के पक्षी शास्त्री और कांग्रेस पक्ष के संस्थापक Allan Octavian Hume (एलन ऑक्टेवियन ह्यूम) ने सन 1872 में और सन 1884 में इस दुर्लभ पक्षी को देखा था इसके बाद करीब 113 साल तक यह पक्षी किसी को भी नहीं दिखा था. बाद में सन 1997 में अमेरिका की पक्षी शास्त्री पामेला रासमुसेन (Pamela Rasmussen) जब भारत में आई तब उसने चित्तीदार उल्लू को देखा और तुरंत ही अपने कैमरे से ढेर सारी तस्वीर खींची ली. 

इसके बाद कभी कबार Spotted Owlet in Hindi को देखने का समाचार मिला लेकिन सन 2003 से लेकर आजतक यह दुर्लभ पक्षी सिर्फ एक बार जोड़े में दिखाई दिया था वो भी सिर्फ एक ही जोड़ थी. मतलब यह पक्षी या तो विलुप्त हो चूका है या बहोत ही जल्द विलुप्त हो जाएगा.

हमने पहले ही दुनिया के कुछ विलुप्त पक्षी पर आर्टिकल लिखा हुआ है, यदी आपने नहीं पढ़ा है तो पढ़ सकते है. दुसरे पक्षिओ की तरह Spotted Owlet in Hindi का विनाश भी जंगल की कटाई के कारन हुआ है. ज्यादातर साग की लकड़ी के लिए हमने जंगल का विनाश किया है उस विनाश के कारन ना सिर्फ जंगल ही खत्म हुए बल्कि पूरी की पूरी Forest Owlet की प्रजाति ही शायद खत्म हो गई.

चित्तीदार उल्लू के बारे में कुछ रोचक तथ्य – Facts about Spotted Owlet in Hindi

1. Spotted Owlet in Hindi दिखने में उल्लू जैसा ही होता है पर यह उल्लू से छोटा होता है और इसकी चोंच उल्लू से बहुत ज्यादा मुड़ी हुई होती है.

2. एक समय में यह पक्षी पुरे एशिया में पाया जाता था. जो खुले मैदान, जंगल और इमारत में रहना पसंद करता था.

3. चित्तीदार उल्लू की ऊंचाई करीब 8 से 9 इंच होती है. इसका उपरी हिस्सा भूरे रंग का होता है वही इसकी आंख पीले रंग की होती है.

4. Spotted Owlet in Hindi उल्लू की तरह पूर्णतः निशाचर नहीं है क्योंकि यह दिन में भी बहार निकलता है.

5. यह छोटे जीव-जन्तु, कीड़े, बिच्छू और कभी-कभी साँप को भी खाता है.

6. चित्तीदार उल्लू की आवाज बहुत ही कठोर है, इसकी आवाज चि-चि-चिरुर के साथ शुरू होती है और चिरवाक-चिरवाक के साथ खत्म होती है. यह ज्यादातर सूर्यास्त और सूर्योदय के समय पर आवाज निकालता है.

7.  Spotted Owlet का प्रजनन काल नवम्बर में आता है जिसमे एक मादा कई सरे नर के साथ सहवास करती है. सहवास के बाद 3 से 4 अंडे देती है.

8. आज भारत में  Spotted Owlet की संख्या 800 से भी कम है वही Forest  Spotted Owlet की संख्या तो लगभग विलुप्त ही हो गई है.

दोस्तों, आपको जाने भारत के सबसे दुर्लभ पक्षी चित्तीदार उल्लू के बारे में – Forest Spotted Owlet in Hindi आर्टिकल कैसा लगा हमें comment में जरुर बताना. यदि आपको यह आर्टिकल अच्छा लगा है तो इसको अपने दोस्तों के साथ भी शेयर जरुर करना.

यह भी पढ़े:-

  1. 14 Kingfisher Bird Facts in Hindi
  2. खरमोर पक्षी के बारे में जानकारी
  3. पेंगुइन के बारे में संपूर्ण जानकारी 
  4. पक्षी, प्रवास पर क्यों जाते है? विश्व के 10 प्रवासी पक्षी
  5. गोल्डन फेजेंट पक्षी के बारे में रोचक तथ्य 

2 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *