Amazing Facts of Vatican City | दुनिया का सबसे छोटा देश Vatican City

वैटिकन सिटी के बारे में रोचक तथ्य | Interesting Facts of Vatican City in Hindi

Amazing Facts of Vatican City | Interesting Facts of Vatican City in Hindi

हमारी दुनिया में करीब 193 देश है जिसको आंतरराष्ट्रिय देश की मान्यता प्राप्त हुई है. दुनिया में सभी देश अलग-अलग तरह के क्षेत्रफल में मोजूद है. कोई देश बड़ा है तो कोई देश छोटा है. वैटिकन सिटी भी एक एसा ही देश है जो दुनिया का सबसे छोटा देश है. यह देश का Area और Population एक गाँव जितनी ही है इसके बावजूद भी इस देश को international Country का दर्जा प्राप्त है.

आज के इस आर्टिकल में हम बात करने वाले है दुनिया के सबसे छोटे देश वैटिकन सिटी के कुछ Amazing and Interesting Facts के बारे में. तो चलिए जानते है इस खुबसूरत देश के बारे में.

वैटिकन सिटी के रोचक तथ्य में आगे बढ़ने से पहले जानते है की इसका भारत के साथ क्या संभंध है? 

भारतीय इतिहासकार पी.एन.ओक ने अपनी शोध से पता लगाया है की यह देश प्राचीनकाल में एक शिवमंदिर हुआ करता था. इसा पूर्व पहेली सदी में यह शहर को नष्ट कर दिया गया था और यहाँ के लोगो को इसाई बनने के लिए मजबूर किया गया था.

 पी.एन.ओक ने आगे बताया था की वैटिकन शब्द हमारी संस्कृत भाषा के शब्द “वाटिका” से लिया गया है. वैटिकन के “सेंट पिटर गिरिजाधर” और “शिवलिंग” की बनावट भी एक जैसी है. इसके आलावा एक और साबुत भी इस बात का खुलासा करता है की यह जगह का भारत के साथ Connection था. दरसल वैटिकन सिटी की खुदाई के वक्त यहाँ पर से एक शिवलिंग भी मिला था जो आज भी “ग्रिगोरिअन म्यूजियम” में रखा गया है.

वैटिकन सिटी के बारे में रोचक तथ्य | Interesting facts about Vatican City

Amazing and Interesting Facts of Vatican City

1. वैटिकन सिटी दुनिया का सबसे छोटा देश है जो इटली की राजधानी रोम के अन्दर बसा है.

2. वैटिकन सिटी की जनसँख्या करीब 1 हजार है और इसका कुल क्षेत्रफल 44 हेक्टर यानि की 108.7 एकर है. यह भारत के किस गाँव से भी छोटा देश है.

3. अब सवाल यह है की सिर्फ 1000 की बस्ती वाले शहर को देश का दर्जा क्यों दिया गया? क्यूंकि कैथोलिक चर्च के अनुसार इसा मसीह के प्रतिनिधि को पॉप कहा जाता है और जो पॉप का निवास स्थान है इसको किसी के भी अधीन नहीं रखा जा सकता है. इसी वजह से वैटिकन सिटी को एक स्वतंत्र देश की मान्यता प्राप्त हुई थी.

4. वैटिकन सिटी की National Language “लैटिन” है.

5. ताजुब की बात तो यह है की क्षेत्रफल और जनसँख्या के मामले में बहोत ही छोटा होने के बावजूद भी इस देश के पास अपना खुद का रेडियो स्टेशन है जो दुनिया के देशो में 20 भाषाओ में प्रसारित होता है.

6. एक और शोकिंग बात यह है की 1000 की जनसँख्या होने के बावजूद भी इस देश के पास खुद का डाक, खुद की currency और एक रेल्वे स्टेशन भी है. यह रेल्वे स्टेशन सन 1930 में बनाया गया था.

7. अब सवाल आता है की यदि यह देश इतना छोटा है और खुद की सेना भी नहीं है तो कोई भी देश इसको गुलाम बना सकता है पर एसा नहीं होगा क्यूंकि भले ही इटली के साथ इसका कोई Connection नहीं है पर यह देश इटली की सीमा में ही है और इटली इसकी रक्षा करता है.

8. वैटिकन सिटी को इतनी प्राधान्यता क्यों दी जा रही है? क्यूंकि यह छोटा सा देश इसाई धर्म की प्रमुख शाखा “रोमन कैथोलिक चर्च” का प्रमुख केंद्र है और रोमन कैथोलिक धर्म को मानने वाले लोगो के प्रतिनिधि पॉप का निवास्थान भी Vatican city ही है.

9. Vatican city  की करेंसी इटली में भी चलती है.

10. वैटिकन सिटी की शासन व्यवस्था राजशाही है और पॉप यहाँ के राजा होते है जिसके पास न्यायपालिका, कार्यपालिका और विधायिका सबकी शक्ति होती है.

11. अब बहोत सारे लोगो को एसा भी लगता होगा की क्यों न इतने छोटे देश में रहेने के लिए चले जाए लेकिन यह नामुमकिन सा है क्यूंकि यहाँ आप घुमने के लिए तो जा सकते हो लेकिन निवास करने के लिए कई तरह की विशेस अनुमति लेनी पड़ती है.

12. वैटिकन सिटी में मोजूद “सेंट पिटर गिरिजाधर” UNESCO द्वरा विश्व धरोहर में सामिल किया गया है.

13. ताजुब की बात तो यह है की यह छोटे देश में एक विश्व प्रशिद्ध संगहालय है जो 14.5 किलोमीटर के क्षेत्रफल में फैला हुआ है और यहाँ पर मोजूद पेंटिंग को देखने के लिए आप 1 मिनिट लगाते हो तो सभी पेंटिंग सहित पूरा संग्रहालय घुमने के लिए आपको 4 साल लग जाएँगे.

14. वैटिकन सिटी के लोगो को किसी भी तरह का टैक्स नहीं देना पड़ता है.

15. वैटिकन सिटी टाइबर नदी के किनारे वैटिकन पहाड़ी पर बना हुआ देश है.

यह भी पढ़े:-
ग्रीनलैंड के बारे में रोचक तथ्य
न्यूजीलैंड के बारे में रोचक तथ्य
वेस्ट इंडीज कोई देश नहीं है, जानिए रोचक तथ्य
पोलैंड देश के बारे में जानकारी

2 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!