क्या होगा अगर पृथ्वी पर के सारे पेड़ नस्ट हो जाए? | What will Happen if we cut down all the trees from earth

क्या होगा अगर पृथ्वी पर के सारे पेड़ काट दिए जाए? | what will happen if all the trees in the earth disappear

आज जिस तरह से इन्सान अधिनिकरण के पीछे भाग रहा है उसमे कोई गलत बात नहीं है लेकिन इसके चक्कर में हम इन्सान बेफाम होकर पेड़-पौधे जो हमारे मित्र कहेलाते है उनका नस्ट कर रहा है. पिछले कुछ सालो की बात करे तो हम इन्सानों की वजह से पूरी दुनिया के 40% पेड़-पौधे को हमने नस्ट कर दिया है जिसका खामियाजा पूरी दुनिया भुगत रही है जिसे हम Global Warming कहेते है.


अगर एसा ही चलता रहा तो वो दिन भी दूर नहीं रहेगा जब हम चाह कर भी नए पेड़ उगा नहीं पाएगे क्यूंकि पेड़ का उछेर करने के लिए पानी ही नहीं बचेगा. आज के इस आर्टिकल में हम बात करने वाले है की क्या होगा अगर पृथ्वी पर के सारे वृक्ष नस्ट हो जाए? क्या होगा अगर सारे पेड़ काट दी जाये? क्या इसका हमारे जीवन पर कोई असर पड़ेगा? चलिए जानते है सारे सवालों के जवाब इस आर्टिकल के माध्यम से.

क्या होगा अगर पृथ्वी पर के सारे पेड़ नस्ट हो जाए?

वर्तमान समय में पूरी दुनिया में करीब 3 खरब पेड़-पौधे है जो हम इस्न्सनो का जीने का सहारा है और अलग-अलग तरीके से हमारी मदद करता है. हर साल करीब 15 billion पेड़ को सिर्फ लकड़ी के व्यापार के लिए काट दिया जाता है. पेड़ हमें इंधन, फल, फुल और जीने के लिए ओक्सीजन वायु प्रदान करता है. इससे पता चलता है की हम इन्सान जीने के लिए पेड़ पर कितने निर्भर है. यह भी पढ़े की क्या होगा अगर सिर्फ 5 सेकंड के लिए ओक्सीजन चला जाये.


क्या होगा अगर पृथ्वी पर के सारे पेड़ काट दिए जाए? | what will happen if all the trees in the earth disappear



चलिए एक नजर डालते है हम इन्सानों की निर्दयता पर


पृथ्वी पर हम इन्सानों के जन्म से पहेले सिर्फ पेड़-पौधे का ही राज था. लेकिन जबसे मानव ने इस धरती पर जन्म लिया और विकाश की प्रकिया शुरी की है तब से पृथ्वी पर से जंगल और हरी भरी धरती का विनाश शुरू हो ने लगा. यह बहोत ही शर्म की बात है हमारे लिए की जो हमें मदद करता है हम इसका ही गला काटते है. इससे पता चलता है की हम इन्सान कितने निर्दई और स्वार्थी है. हमारी वजह से ही कई सारे जानवर और पक्षीओ की पूरी प्रजाति नस्ट हो चुकी है और अब हम यही काम पेड़-पौधों के साथ कर रहे है.


पेड़ से होने वाले फायदे

  • पेड़ पर मोजूद हरी पत्तिया हमारे लिए कार्बन डाइओक्साइड रूपी जहरीले गेस को निगल लेती है और हमें प्राण वायु प्रदान करती है.
  • पेड़ की लकडियो से हमें इंधन मिलता है, हम फर्नीचर बना सकते है. यहाँ तक की लिखने के लिए कागज भी पेड़ की लकड़ी में से ही बनता है.
  • भूस्खलन को रोकता है.
  • पेड़ पौधे की वजह से ही इकोसिस्टम चलती है.
  • हमारे वातावरण को प्रदुसित होने से रोकता है.
  • दवाई और के लिए इस्तमाल होता है.

इसके आलावा पेड़ के अनगिनत फायदे है लेकिन हम इसके बारे में विस्तार से नहीं बता सकते है. इस लिए चलिए आगे बढ़ते है.



पृथ्वी पर के सारे पेड़ नस्ट हो जाने के बाद वातावरण पर क्या प्रभाव पड़ेगा
पृथ्वी पर के सारे पेड़ नस्ट हो जाने की एक मिनट में ही वातावरण में मोजूद ओक्सीजन का स्तर धीरे धीरे निचे आना शुरू हो जायेगा और कार्बन डाइओक्साइड का स्तर बढ़ने लगेगा लेकिन इस प्रकिया के बारे में इन्सानों को पता नहीं चलेगा क्यूंकि वातारवरण में अभी भी कोई ओक्सीजन का प्रमाण इतना ही होगा.

5 मिनट के बाद हर इन्सानों में स्ट्रेस का प्रमाण बढ़ने लगेगा का क्यूंकि इन्सानों के अन्दर मोजूद स्ट्रेस को कंट्रोल करने वाले होरमोन Cortisol और Adrenaline कम होने लगेगागा.

7 दिनों के बाद वातावरण में अचानक से बदलवा आने लगेगा. सभी इन्सानों को भयानक चक्रावत और बारिस का सामना करना पड़ेगा. भयानक बारिस और तुफानो को रोकने के लिए पेड़ ना होने की वजह से बहोत सारी मिटटी चली जाएगी जिससे जमीन अन्दर से खोखली होने लगेगी. बिना पेड़ के पानी के प्रवाह से सारी मिटटी और कचरा नदियो में चला जायेगा. जो नदियों में रहेने वाली मछली और जीवो के मरने का कारन बनेगा.



1 Month के बाद सभी इन्सानों को साँस लेने में बहोत सारी दिक्कत आने लगेगी क्यूंकि हम इन्सानों की वजह से हररोज प्रदुषण बढ़ता जा रहा होगा और इसके सामने ओक्सीजन देने के लिए एक भी वृक्ष पृथ्वी पर जीवित नहीं बचा था जिसके चलते इन्सानों को कई सारी तकलीफ होने लगेगी. कई सारे कमजोर लोग मरने लगेगे.


6 महीने के बाद वतारवरन में तापमान बहोत ज्यादा बढ़ जायेगा. इन्सानों के पास पर्याप्त भोजन होगा लेकिन नए अनाज और फल, सब्जी नहीं आएगी जिसके चलते अनाज खाने का भाव कई गुना ज्यादा बढ़ जाएगा. इसके आलावा पिने के लिए बहोत ही कम शुद्ध पानी बचेगा जिसके चलते इन्सानों में कई सारी बीमारी जन्म लेगी. जेसे की हम जानते है की पेड़-पढ़े की वजह से ही दवाए बनती हे पर बिना पेड़ के बीमारी का इलाज करने के लिए इन्सानों के पास पर्याप्त मात्रा में दवाए उपलध नहीं होगी जिसके चलते कई सारे लोगो का इलाज संभव नहीं हो पाएगा और यदि इलाज के लिए दावे मिलेगी तो वो इतनी महेंगी हो जाएगी की आम इन्सान इलाज करवा नहीं पाएगा.

सिर्फ इन्सान ही नहीं बल्कि जानवर भी मरने लगेगे क्यूंकि शाकाहारी जानवर को जीने के लिए पेड़-पौधे चाहिए और मांसाहारी जानवर उन शाकाहारी जानवर को खा कर अपना पेट भरते है लेकिन बिना हरियाली के एक दुसरे पर आधार रखने वाले सारे जिव भूख और प्यास की वजह से मरने लगेगे.

सिर्फ 6 महीने में ही इतना भयानक परिणाम देख कर इन्सान हेरान हो जायेगा और सोचेगा की नए पेड़-पौधे लगाने चाहिए पर बिना पानी और बिना अच्छी जमीन के चलते यह भी संभव नहीं हो पाएगा अगर कई जगह पौधा उगा भी लिया तो इसको बड़े हो ने में कम से कम 10 साल लग जएगे तब तक कई सारे इन्सानों की जान चली जाएगी.

1 साल के बाद Global Warming इतनी ज्यादा बढ़ जाएगी की घर से बहार निकलने में भी तकलीफ होने लगेगी. घर के अंदर भी साँस लेने में तकलीफ पड़ेगी. बहार का वातावरण इतना गर्म हो चूका होगा की आप कई पर भी बहार नहीं निकल पाओगे. बारिस की एक बूंद भी नहीं गिरेगी और कई सालो ताक एसा ही चलता रहेगा. इन्सान चाहकर भी फिर से नए पेड़ उगा नहीं पाएगा और करीब 50 साल तक पृथ्वी पर से 80% इन्सान और जानवर भूख और प्यास की वजह से खत्म हो जाएगे.

बिना वृक्ष कारन अमीर लोग जैसे-तैसे करके 50 साल तक जीवित रहेलेंगे लेकिन इसके बाद पृथ्वी पर से सारा अनाज खत्म हो जाएगा सारी जमीन सुक जाएगी. कई भी पिने के लिए पानी नहीं बचेगा. सिर्फ समुद्र में ही पानी बचेगा जो हम पि नहीं सकते है. इस तरह करीब 100 साल के अन्दर पृथ्वी पर से समुद्री जीवो के आलावा सारा जीवन नस्ट हो जाएगा.

निष्कर्ष
पृथ्वी पर बिना वृक्ष के क्या हालत हो सकती है इसकी छोटी सी झलक हमने देखि. यह तो सिर्फ कल्पना ही थी लेकिन इससे भी बुरा हाल हो सकता है. इसी लिए हम सब को आज से ही जागृत होना पड़ेगा और वृक्ष को काटने से रोकना होगा इसके साथ साथ नए पेड़ भी उगाने होगे और इसका जातन भी करना होगा. अगर हम अब भी इसी तरह से बेफाम हो कर विकाश के पीछे भाग कर पेड़ को नस्ट करते गए तो सारी दुनिया में विकाश तो होगा लेकिन इसको देखने के लिए कोई भी इन्सान जीवित नहीं बचेगा.


दोस्तों, उम्मीद है आपको क्या होगा अगर पृथ्वी पर के सारे पेड़ काट दिए जाए? | what will happen if all the trees in the earth disappear लेख अच्छा लगा होगा, अगर मेरे इस लेख की बात से आप सहेमत हो तो इस जानकारी को ज्यादा से ज्यादा शेयर जरुर करे ताकि हम इन्सान पेड़ पर होते अत्याचारों को रोक सके और ऊपर बताए गए भयानक प्रभाव से बच सके.

यह भी पढ़े:-