History of The Great Wall of China in Hindi | चीन की विशाल दीवार का इतिहास

चीन की विशाल दीवार का इतिहास | History of The Great Wall of China

चीन की विशाल दीवार का इतिहास | History of The Great Wall of China in Hindi

 

दोस्तों, The Great Wall of China किलेनुमा दीवार है, जिसे पत्थर, ईंटो, लकड़ी और दूसरी धातुओ का उपयोग कर के बनाया गया है. यह चीन की उत्तरी सीमा पर बना हुआ है, जो चीनी राज्यों को संरक्षित भी करती है. इस दीवार ने कई बार चीन पर हुए आक्रमण से चीन की सुरक्षा की है. तो आज की इस पोस्ट में में आपको The Great Wall of China के पुरे इतहास के बारे में बताऊंगा की चीन की विशाल दीवार निर्माण क्यों किया गया था?, चीन की विशाल दीवार का निर्माण कब किया गया था ? यह सारी बातें में आपको इस पोस्ट में बताने वाला हु.
चीन की विशाल दीवार का इतिहास | History of The Great Wall of China in Hindi

 

दी ग्रेट वॉल ऑफ़ चाइना कहां है?:-

दी ग्रेट वॉल ऑफ़ चाइना का विस्तार 15 प्रांतोंतक फैला हुआ है. यह उत्तर-पश्चिम में, शिंजियांग से, पूर्व में कोरिया की सीमा तक फैली हुई है. यह शहर के उत्तर-पश्चिम में, जिययुगुआन तक फैली हुई हे. चीन की यह विशाल दीवार देश की उत्तरी सीमा की रक्षा करती है 

 

कितनी लम्बाई और ऊंचाई हे?:-
इसकी विशालता का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है की इस दीवार को अंतरिक्ष से भी देखा जा सकता है. वैसे तो चीन की लंबी दीवार के बारे में अलग अलग मत हे और यह पूरी एक दीवार नहीं है, बल्कि छोटे-छोटे हिस्सों से मिलाकर बनाई गई है पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग के हाल के सर्वेक्षण के अनुसार इस दीवार में कई खाली जगहें भी हैं, यदि इन खाली जगहों को भी जोड़ दिया जाए तो इसकी लंबाई 8848 किमी हो जाएगी. 

दीवार की ऊंचाई हर जगह एक जैसी नहीं है, कुछ जगह पर उसकी ऊंचाई 8-9 फ़िट है तो कुछ जगह पर 35 फ़िट तक की है और चौड़ाई 21 फ़िट है, जिसपर 5 घोड़े सवार एक साथ चल सकते है. यहां तक ​​कि अगर आप केवल दीवार की मुख्य लाइन की लंबाई पर विचार करते हैं तो इसकी लम्बाई लगभग 2150 मिल हे जो अब भी यह दुनिया की सबसे लंबी दीवार है.

कब बनाई गई थी?:-

यह ठीक से कहना मुश्किल है कि चीन की विशाल दीवार का निर्माण कब हुआ था क्योंकि कई सारे राजवंशों और शासकों ने इसके निर्माण में योगदान दिया था. और यह माना गया है कि दीवार की शुरुआत का निर्माण चीन के पहले शासक कीं शी हौंग ने 220-206 BCE में करवाया था लेकिन उनके द्वारा निर्मित दीवार का थोड़ा भाग ही आज हमें देखने मिलता है. इस दीवार को सम्राट किन शी हुआंग के शासनकाल के दौरान 5,500 मील की दूरी तक बनाया गया था. इसके बाद से इस ग्रेट वॉल की हमेशा समय-समय पर मरम्मत की गयी और इसमें काफी सुधार भी किये गये. वर्तमान दीवार के ज्यादातर भाग का निर्माण मिंग साम्राज्य ने सन 1368 से सन 1644 के बीच में किया था.

 

इसका निर्माण क्यों किया गया था ?:-

चीन की विशाल दीवार का इतिहास | History of The Great Wall of China in Hindi
इस दीवार को शत्रुओ के आक्रमण से रक्षा के रूप में और सिल्क रोड़ व्यापार की रक्षा के लिए किया बनाया गया था. इस दीवार का निर्माण 5वीं शताब्दी ईसा पूर्व से लेकर 16वीं शताब्दी तक कराया गया था. और चीन की ये दीवार 2300 साल पुरानी है. इस दीवार का निर्माण किसी एक सम्राट द्वारा नहीं किया गया बल्कि कई राजाओं के द्वारा कराया गया था. कहा जाता हे की इस दीवार का निर्माण करने के लिए 20 से 30 लाख मजदूरो ने काम किया था और इस दीवाल को बनाते वक्त लगभग 10 हजार मजदुरोंने अपनी जान गवाई थी.

शायद इसीलिए इस दीवार को दुनिया का सबसे बड़ा कब्रिस्तान भी कहते है क्योकि वहा पर बहोत सरे लोगो की लाशे दबी पड़ी है.
चीन की विशाल दीवार का इतिहास | History of The Great Wall of China in Hindi

 

 

इस विशाल दिवार को कैसे बनाया था?:-
इस दीवार को पत्थर, रेती, इट और मिट्टी से बनाया गया है. इस विशाल दीवार के अधिकांश काम हाथों से ही किया गया था लेकिन सारा सामान रस्सी, बकरी और गाड़ी के जरिये दीवार तक लाया जाता था. मिंग राजवंश के निर्माण के दौरान नींव रखने और प्रवेश द्वार को बनाने में कटे पत्थर के बजाय ईंटों का उपयोग किया गया था. दीवार को बनाते समय इसके पत्थरों को जोड़ने के लिए चावल के आटे का इस्तेमाल किया गया था. दीवार की वर्तमान स्थिति थोड़ी ख़राब है, आज कुछ 30% दीवार का हिस्सा नष्ट हो चूका है लेकिन अब चीनी सरकार ने दीवार को बचाने के लिए अच्छे कदम भी उठाये है.
चीन की विशाल दीवार का इतिहास | History of The Great Wall of China in Hindi
इस दीवार की विशेषता क्या हे?:-
इस दिवार की खास बात यह थी की इस दीवार के जरिये वो लोग दूर से आते दुश्मन पर नजर रख सकते थे क्योंकि इसके लिए इस दीवार में कई मीनारे भी बनाई गयी हैं. इस दीवार की चीन की रक्षा के लिए बनाया गया था और यह दुसमन के हुम्लोसे चीन को बचाती थी लेकिन सन 1211 में चंगेज खान ने इसको तोड़क कर चीन पे हमला कर दिया था. चीन की दीवार को चीनी पौराणिक कथाओ और लोकप्रिय प्रतीकों में शामिल किया गया है और 20 वीं सदी में इसे राष्टीय प्रतिक के रूप में माना जाता है.
चीन की विशाल दीवार का इतिहास | History of The Great Wall of China in Hindi

 

यात्रा करने कितने लोग आते हे?:-
चीन की इस दीवार को देखने के लिए हर साल १ करोड़ से भी ज्यादा लोग आते हे. इस दीवार की यात्रा करने का सही टाइम मई और अक्टूबर के पहले के सप्ताह हैं लेकिन फिर भी हर मोसम में इस दीवार पर भारी मात्र में भीड़ रहती हे. सदियों के दौरान इस दीवार पे भरी मात्र में बर्फ जम जाती हे और बर्फ दीवार को ढँक लेती हे और इसके कारन लोगो की भीड़ थोड़ी कम हो जाती हे.

उम्मीद हे दोस्तों आपको यह जानकारी पसंद आई होगी.
धन्यवाद.

TAG:-
Mysterious Statues of the world
Mysterious जंगल
Japanese Facts

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!