आसमानी बिजली क्या है और क्यों गिरती है? जानिए इसके पीछे का विज्ञान



दोस्तों, जब भी बारिस आती तब आसमान में बिजली जोर शोर से कड़कती है और कई बार जमीन पर भी गिरती है. मानसून के मौसम में जब भी आसमान में घने बादल मंडराते हैं तो आसमान से उनके गरजने की आवाज सुनाई देती है और आवाज के साथ बिजली भी चमकती हुई दिखती है जो कई बार धरती पर गिरती है जिससे कई बार जान माल का भारी नुकसान होता है. लेकिन क्या आपको पता है की आखिर आसमान में बिजली क्यों चमकती है और धरती पर क्यों गिरती है? चलिए जानते आज हम आपको इसके पीछे की सारी बाते बताते है.
आसमानी बिजली कैसे बनती है? How lighting is formed

आसमानी बिजली क्या है और क्यों गिरती है? जानिए इसके पीछे का विज्ञान

आसमान में कैसे बिजली बनती है और क्यों कड़कती है यह बात जानने के लिए सबसे पहेले Static Electricity के बारे में जानना होगा ताकि आप अच्छे से समज सको.

क्या है Static Electricity
Static Electricity किसी दो वस्तुओं के बीच घर्षण (friction) होने से उत्पन्न होता हैं. हब सभी ने बचपन में या कभी भी वो गुब्बारा वाला experiment तो किया ही होगा, जिसमे पहले हम अपने सिर पर या शरीर पर कहीं भी एक गुब्बारे को रगड़ते हैं और फिर उस गुब्बारे को कागज़ के छोटे छोटे टुकडो के पास ले जाते हैं. हम देखते हैं कि कागज़ टुकड़े उस गुब्बारे के उपर चिपक जाते हैं. इस प्रक्रिया के पीछे का विज्ञान है Static Electricity.

इसमें होता ये हैं कि जब हम किसी गुब्बारे को अपने शरीर या सिर पर रगड़ते हैं तो शरीर पर से कुछ electron गुब्बारे पर आ जाता हैं और जब हम गुब्बारे को कागज़ के टुकड़े के पास ले जाते हैं तो कागज के टुकड़े जो कि neutral होते हैं, उसके positive charge गुब्बारे पर चिपके negative charge के तरफ आकर्षित होते हैं. इस प्रकार गुब्बारे के उपर कागज के टुकड़े चिपक जाते हैं. इसके अलावा static electricity को हम सभी ने अपने दैनिक जीवन में कभी न कभी महसूस किया ही होगा. आप में से कई सारे लोग ने यह बात महेसुस जरुर की होगी की रात के अँधेरे में कई बार बार घर्सन के अकारण कम्बल पर बिजली चमकती दिखाई डी होगी यह भी Static Electricity की वजह से ही है.

कैसे बनती है बिजली
चलिए अब बात करते है की ये बिजली बनती कैसे हैं? अब जैसा की आप जानते होंगे कि बादल, पानी के गर्म होकर बादल बनने से और उपर ठंडा होकर बनने से बनता हैं. उपर ये बादल इतने ठंडे हो जाते हैं कि छोटे छोटे बर्फ के टुकड़े के रूप में बन जाता है. जब भी यह बादल विपरीत गति वाले बादल से आपस में टकराते है तो आवाज के साथ बिजली पैदा होती है. यह बिजली दो बदलो के आपस में होने वाले घर्सन की वजह से उत्पन्न होती है.

धरती पर क्यों गिरती है आसमानी बिजली
जैसे की हमने देखा की दो बादलो के आपस में घर्सन की वजह से आसमान में बिजली पैदा होती है और यह बिजली Conductor की तलास में धरती पर गिरती है क्यूंकि आसमान में बिजली को कोई भी Conductor नहीं मिलता है इसी वजह से यह बिजली किसी खम्बे पर गिरति है क्यूंकि यह बिजली के खम्बे आसमानी बिजली के लिए Conductor का काम करता है. आसमान से गिरने वाली यह बिजली अगर किसी भी इन्सान के शरीर को छू जाती है तो वो तुरत ही जल कर खाक हो जायेगा.

कैसे बच सकते है इस बिजली से
1.    घर में अर्थिंग वाला तार जरूर लगाएं.
2.    जब भी आंधी तूफ़ान आये और आसमान में घने बादल मंडराएं तो अपने घर के इलेक्ट्रॉनिक सामान जैसे टीवी, रेडियो, कंप्यूटर आदि के पॉवर प्लग निकाल दें.
3.    जहाँ तक हो अपना मोबाइल भी स्विच ऑफ कर दें.
4.    फर्श या जमीन पर चलते समय अपने पैरों में रबर की चप्पल पहन के रखें.
5.    ऐसे मौसम में बिजली के उपकरणों को बंद कर दें और उससे दूर रहें.
6.    बारिश के मौसम में जब बिजली कड़क रही हो तो पेड़ के नीचे या खुले मैदान में ना जाएं.

बिजली की बारे में रोचक तथ्य
1.    भले ही आसमानी बिजली और उससे पैदा होने वाली गड़गड़ाहट एक ही समय पर पैदा होते है पर धरती पर बिजली की आवाज़ से पहले बिजली चमकती हुई दिखाई देती है क्योंकि प्रकाश की रफ्तार आवाज़ से कई गुणा ज्यादा होती है.
2.    हर सैकेंड में कम से कम 40 बार आसमानी बिजली धरती पर गिरती है.\
3.    हर साल करीब 24000 लोगो की मोत सिर्फ बिजली गिरने की वजह से होती है.
4.    आसमानी बिजली में इतना पॉवर होता है की एक 100 वोल्ट का बल्ब कम से कम 3 महीने तक जल सकता है.
5.    यह बिजली आसमान से जमीन पर सिर्फ 0.2 सेकंड में आजाती है.
6.    आसमान से गिरने वाली यह बिजली की लम्बाई कम से कम 4 से 5 किलोमीटर तक की होती है.
7.    बिजली गिरने पर पुरुषो की मरने की संभावना स्त्रिओ की तुलनामे में पांच गुना ज्यादा होती है.
8.    कई लोगो का कहेना है की एक बार जिस जगह पर बिजली गिरती है वहा पर फिर से नहीं गिरती पर हकीकत में आसमानी बिजली एक जगह पर कई बार गिरती है.
9.    अमेरिका के स्टेचू ऑफ़ लिबर्टी पर हर साल 300 बार बिजली गिरती है.
10. आसमानी बिजली X-Ray किरणो से लेस होती है.

 यह भी पढ़े:-