खड़े होकर पानी पीना हो सकता है खतरनाक, शरीर के इस हिस्से पर पड़ेगा बहोत ही ख़राब असर
खड़े हो कर पानी क्यूँ नहीं पीना चाहिए? | इससे शरीर पर क्या अशर पड़ता है?

हम सभी को पता है की मानव शरीर का 70% हिस्सा पानी से बना है. यही कारन है की हम सभी को जिन्दा रहेने के लिए पानी आवश्यक है. पानी का काम होता है शरीर को साफ रखना. पानी पिने से शरीर के भीतर मोजूद विषेले एवं हानिकारक पदार्थ शरीर से बहार निकल जाता है. लेकिन पानी पिने का भी एक तरीका होता है और यदि आप इस तरीके से पानी नहीं पिते हो तो यह आपको फायदा कम और नुकसान ज्यादा पहोचायेगा.


बहोत सारे लोगो को एक आदत सी बन गई होती है की जब भी बहार से आते हे तो फ्रीज खोल कर वहा ही खड़े हो कर एक ही घुन में अधि बोतल पानी पि जाते है. लेकिन क्या आपको पता है की खड़े हो करा पानी पिने शरीर को सिर्फ नुकसान ही पहोचता है. आज के इस आर्टिकल में में आपको बताने वाला हु की खड़े होकर पानी पिने से क्या नुकसान होते है. मानव शरीर जे जुड़े रोचक और दिलचस्ब तथ्य

खड़े होकर पानी पिने से होता है यह नुकसान
खड़े होकर पानी पीना हो सकता है खतरनाक, शरीर के इस हिस्से पर पड़ेगा बहोत ही ख़राब असर

1. पाचनतंत्र
खड़े होकर पानी पिने से यह पानी सीधे जाकर पेट की दीवारों से टकराता है जिससे पेट के आसपास मोजूद अंग तो बुरी तरह से प्रभावित होते ही है इसके आलावा पाचनतंत्र कमजोर हो जाता है जिसकी वजह से खाना ठीक से हजम नहीं होता है और लंबे समय बाद आप कमजोर होने लगते हो. शरीर में बार-बार अशक्ति आने के पीछे भी यह ही बात जिम्मेदार हो सकती है.

2. जोड़ों का दर्द
खड़े होकर पानी पिने से घुटनों पर दबाव पड़ता है और इससे जुडी बीमारी की संभावना बन जाती है.इस आदत से आपके जोड़ो में हमेशा दर्द होने लगता है. इस लिए पानी का सेवन बेठकर और आराम से धीरे धीरे करना चाहिए.

3. किडनी की बीमारी
खड़े होकर पानी पिने से पानी बहोत ही तेजी से किडनी को बिना छुए ही निकल जाता है. जिससे खून में गंदकी जमा होने लगती है जिसकी वजह से किडनी ख़राब होने की संभावना बढ़ जाती है.

4. प्यास नही बुझती
हमेशा बैठकर ही पानी पीना चाहिए. बैठकर पानी पिने से प्यास जल्दी बुझ जाती है. जबकि खड़े होकर पानी पिने का सबसे बड़ा नुकसान यह होता है की चाहे जितना भी पानी पीओ आपकी प्यास नही बुझती है.

5. शरीर में एसिड का स्तर बना रहेता है
जल्दी-जल्दी में और खड़े रहेकर पानी कभी भी नहीं पीना चाहिए. अगर आप खड़े होकर पानी पिते हो तो आपके शरीर में मोजूद एसिड का स्तर कभी भी कम नहीं होगा.

6. पेट की बीमारी
जेसे की हमने आगे ही बात की की खड़े होकर पानी पिने से प्यास बुझती नहीं है जिसके कारन आप और आप बार-बार पानी पिओगे जिसकी वजह से खाना देर से पचता है और कई बार तो पूरी तरह से डाइजेस्ट भी नहीं होता है.खड़े होकर पानी पिने से पानी की मात्रा शरीर में जरुरत से ज्यादा हो जाती है. जिसकी वजह से शरीर में मोजूद पाचन रस काम करना बंध कर देता है जिसकी वजह से पेट की अलग अलग समस्याए जैसे की अपच, गैस, अल्सर आदि होने लगती है.

पानी पिने का सही समय क्या है


  1. सुबह उठकर तुरंत ही 3-4 ग्लास पानी पिने से शरीर की आन्तरिक ऊर्जा जागृत हो जाती है. सुबह उथकर कम से कम 2 ग्लास पानी पिने की आदत आपको कई सारी बिमारिओ से भी बचाती है.
  2. स्नान करने के तुरंत बाद ही एक ग्लास पानी पीना चाहिए जिससे आपका ब्लड प्रेशर कंट्रोल में रहेता है.
  3. भोजन करने के 45 मिनट पहेले और खाने के 45 मिनट बाद पानी पिने से पाचनतंत्र ठीक से काम करता है.
  4. सोने से पहेले आधा ग्लास पानी पिने से हार्ट अटैक की संभवना कम हो जाती है.
  5. प्यास लगने पर घुट-घुट कर पानी नहीं पीना चाहिए, आराम से पानी पीना चैये.
  6. भोजन के 30-45 मिनट के बाद ही पानी पीना चाहिए. भोजन के 30-45 मिनट बाद हल्का सा गर्म पानी पीने से शरीर की पाचन शक्ति अच्छे से काम करती है इसी वजह से डॉक्टर भी हमको भोजन के आधे घंटे बाद ही पानी पिने के सलाह देते है.

यह बात तो सभी लोग मानते है की पानी हमारे जीवन के लिए बहोत ही जरुरी है लेकिन अगर सही तरीके से पानी का सेवन नहीं किया जाए तो यह पानी हमारे शरीर के लिए घातक साबित हो सकता है. सही तरीके से पानी पिने से हमें कई सारे रोगों से मुक्ति मिलती है इसके साथ शरीर में एक नै ऊर्जा भी मिलती है. इसी वजह से हम सभी को पानी का सेवन बहोत ही अच्छे तरीके से करना चाहिए.

उम्मीद है आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा. अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी हो तो इसे अपने social Media पर share जरुर करे. 



नोट:-अगर आपको किसी भी तरह की बीमारी है तो डॉक्टर की सलाह लेकर ही पानी का प्रयोग करे क्यूंकि कभी कभी एसी समस्याए भी होती है जिसमे कम पानी पिने की सलाह दी जाती है.

यह भी पढ़े:-