Facts about Ant in Hindi | चीटियाँ लाइन में क्यों चलती हैं?

 चीटियाँ लाइन में क्यों चलती हैं? | Facts about Ant in Hindi

चीटियाँ लाइन में क्यों चलती हैं? | Facts about Ant in Hindi

 

आपने अपने घरों के आस-पास चीटियॉ को देखा ही होगा और इस नन्हे से जीव की कड़ी मेहनत से भी आप हैरान हुए बिना नहीं रह पाए होंगे क्योंकि चींटी एक ऐसी जीव है जो हमेशा व्यस्त ही दिखाई देती है और कई बार तो बहुत सारी चीटियाँ लाइन में चलती हुयी भी नज़र आती है. पर क्‍या आपने कभी सोचा है कि ऐसा क्‍यों होता है? तो आज की इस पोस्ट में में आपको Ant in Hindi के बारे में Interesting और रोचक बाते बताने वाला हु.
 
चीटियाँ लाइन में क्यों चलती हैं? इस पोस्ट की खास बाते:-
  1. Ant in Hindi लाइन में क्यों चलती हैं?
  2. कितना वजन उठा सकती हे?
  3. दुनिया भर में कितनी प्रजाति हे ?
  4. चीटियो के बारे रोचक बाते
क्‍या चीटियों का भी कोई राज्‍य होता है? हां क्‍यों नहीं चीटियों के भी अपने शहर होते हैं. आपको जानकर हैरानी होगी कि वे हमारी तरह ही छोटीछोटी बस्‍तियां बनाकर रहती है. आपस में मिल जुलकर अपना भोजन खोजना और उसको अपने राज्‍य तक ले जाना ये सब काम इनके मिलनसार होने का प्रमाण हैं. लगभग 10 से 15 करोड़ वर्षों से चींटियां पृथ्वी पर रह रही हैं. इस अवधि में जन्तुओं की कई प्रजातियां आईं और नष्ट हो गईं. तो चलिए जानते हे विस्तार से इस जिव के बारे में जो हम लोगो को भी आगे बढ़ने की हिम्मत देती हे.
चीटियाँ लाइन में क्यों चलती हैं? | Facts about Ant in Hindi
Ant in Hindi

 

चीटियाँ लाइन में क्यों चलती हैं?
प्रत्येक कीट अपने ढंग से विचारों और समाचारों का आदान-प्रदान करते हैं. इसी तरह चींटियाँ भी अपने सहयोगियों तथा समूह से संपर्क बनाये रखने तथा भोजन आदि की सही सूचना देने के लिए रसायनों का उपयोग करती हैं.

जब चीटीयॉ खाने की खोज में निकलती हैं तो सबसे आगे चलने वाली चीटी चलते समय फेरोमोंस नामक रसायन छोडती हैं जिससे उनके पीछे चलने वाली चीटियॉ उसी रसायन को सूंघ कर आगे बढती है और इस स्त्राव कि महक अधिक समय तक नहीं रहती हे इस लिए पीछे आने वाली चींटियाँ उस महक को ताज़ा बनाने के लिए स्त्राव लगाती हुई एक लाइन में चलती रहती हैं यही कारण है कि हमें चीटियॉ हमेशा लाइन में ही चलती हुई दिखाई देती हैं.
चीटियाँ लाइन में क्यों चलती हैं? | Facts about Ant in Hindi
Ant in Hindi

 

कितना वजन उठा सकती हे?
चींटी दिखने में तो छोटी सी होती है पर वो अपने वजन से 20 किलो अधिक भार उठा सकती है. चींटी के छह पैर होते हैं और हर पैर में तीन जोड़ होते हैं. इनके पैर काफी मजबूत होते हैं जिसकी मदद से ये तेज भाग सकती हैं.
 
दुनिया भर में कितनी प्रजाति हे ?
भले ही हम केवल लाल और काली चींटी के बारे में ही जानते हों लेकिन दुनियाभर में चींटियों की करीब 12,000 प्रजातियां मौजूद हैं.
चीटियाँ लाइन में क्यों चलती हैं? | Facts about Ant in Hindi

 

कितने साल जीवित रहेती हे?
रानी चींटी की उम्र लंबी होती है, वह 20 से 30 साल तक जीवित रह सकती है. रानी चींटी के मरने के बाद चींटियों की कॉलोनी के लिए जीवित रहना बहुत मुश्किल हो जाता है और वो केवल कुछ महीने तक ही जीवित रह पाती हैं.
चीटियाँ लाइन में क्यों चलती हैं? | Facts about Ant in Hindi

 

रोचक जानकारी

1. सबसे बड़ी चीटी अफ्रीका में पाई जाती है, जिसकी लंबाई तीन सेंटीमीटर त‍क होती है.

2.  हर प्रजाति की चीटियों की अपनी सीमाएं होती हैं, जो एक-दूसरे पर हमला भी करती हैं.

3. चीटियों की कई प्रजातियां खूंखार भी होती हैं. ऐसी प्रजाति की चींटी मध्‍य अफ्रीका, दक्षिण अमेरिका और दक्षिण एशिया में पाई जाती हैं.

4. चीटियों के अपने महल भी होते हैं, जो तीन फुट तक ऊंचे होते हैं.

5. मनुष्य और चींटी  ही पूरी दुनिया मे ऐसी प्रजाति है जो अपना भोजन इक्कठा करके रखती है.

6. चींटियों के कान नही होते है लेकिन वो जमीन के कम्पन से महसूस करती है.

7. चींटियां सामाजिक प्राणी होती हैं जो कॉलोनी में रहती है. इस कॉलोनी में क्वीन, मेल चींटी और बहुत सारी फीमेल वर्कर चीटियाँ होती हैं.

8. रानी चींटी के बच्चों की संख्या लाखों में होती है.

9. कॉलोनी में रहने वाले कुछ मेल चींटियों का काम क्वीन के साथ मेटिंग करने तक ही सीमित होता है और इसके बाद वो बहुत जल्द मर जाते हैं

10. क्या आप जानते है कि चींटी के दो पेट होते है जिसमे से 1 में वो अपना भोजन रखती है और दूसरे में किसी और का भोजन रखती है.

11. आपको जानकर हैरानी होगी लेकिन यह सच हैं कि चीटियां मांसा‍हारी भी होती है.

12. यह चीटियां लाखों की संख्‍या में अपने शिकार की तलाश में निकलती हैं, जब शिकार चंगुल में फंस जाता है तो उसका मांस खा जाती है.

13. चीटियों में एक खास गुण होता हैं जिसके चलते वे अपने शरीर से छोड़ी गई गंध के जरिए अपने पुराने बिल में वापस भी जा सकती है.

14. ऊंचाई से गिरकर ऊपर चढ़ना इनकी खासियत होती है

Add a Comment

Your email address will not be published.