इंसान को खाने वाले पेड़ो की अनसुनी कहानी - Mysterious stories of man eating trees


दुनिया को खाने वाले पेड़ो की अनसुनी कहानी - Mysterious stories of man eating trees

हमारी यह दुनिया कई तरह के अजीबो-गरीब रहस्यों से भरी हुई है जिनमे से कुछ रहस्यों का पता तो लग जाता है लेकिन कई सारे रहस्य एसे भी है जिनके बारे में विज्ञान पता नहीं लगा पाता है. जिसके कारण एसे अनसुलझे रहस्यों को मिथक कहानी कहेकर बंध करदिये जाते है.

आज हम आपको कुछ एसे ही रहस्यों के बारे में बताने जा रहे है जिनको भी एक मिथ्या बाते कहेकर बंध कर दिया गया है. हमारी दुनिया में छोटे पौधों की प्रजातिया करीब 6000 से भी ज्यादा पाई जाती है जो किट, चूहों, छिपकली और छोटे पक्षीओ को अपना शिकार बना लेती है. यानी की  मांसाहारी पौधे है. लेकिन हम आपको पौधों की नहीं बल्कि नरभक्षी पेड़ो की बात करने वाले है जिनके रहस्यों पर आजतक कुछ भी पता नहीं चल पाया है. चलिए जानते है एसी कुछ रहस्यमई घटना के बारे में.
दुनिया को खाने वाले पेड़ो की अनसुनी कहानी - Mysterious stories of man eating trees
Story of Madagascar forest
बात है सन 1874 की जिसको New York World  मेगेजिन में एडमैन स्पेन्सर द्वारा प्रस्तुत किया गया था. इस आर्टिकल में एक जर्मन खोज कर्ता Karl Leche ने आफ्रिका के जंगल में हुए नरभक्षी पेड़ की घटना का जिक्र किया था.


उन्होंने लिखा था की " एक बार में आफ्रिका के जंगल में सफ़र कर रहा था तभी मैंने वहां के जंगली आदिवासियों की कुछ हलचल सुनी, जब में उस तरफ गया तो मैंने देखा की वहां एक अजीब तरह का पेड मोजूद था और इस पेड़ की पत्तियों के साथ बडी सर्प के आकर की Vine(बेल) फैली हुई थी जो साप की तरह हलचल कर रही थी. वही पर जंगली कबीले के लोग एक ओरत को भाले की नौक से जबरदस्ती पेड़ के ऊपर उसके मुख में धकेल रहे थे. और देखते ही देखते उस पेड़ की Vine(बेल) ने उस ओरत को जकड कर उस तरल में खिंच लिया. यह सब देखकर में वहा से भाग गया और कुछ दिनों बाद में जब वापिस उस जगह पर आया तो मैंने देखा की वहां पर उस ओरत की हड्डिया उस पेड़ की चारो तरफ फैली हुई थी मानो की जैसे इस पेड़ ने इस ओरत को जिन्दा निगल लिया."

इस आर्टिकल के पब्लिश होने के बाद कई सारे शोध कर्ता Madagascar जंगल की और निकल पड़े लेकिन उनको Madagascar के घने जंगल में एसा कोई भी पेड़ नहीं मिल पाया. लेकिन खोज कर्ताओ के मुताबिक वहां के स्थानिक आदिवासियों ने यह बात की पुष्ठी की थी की इस तरह का पेड़ मोजूद था जो इन्सानों को खाता था.

दुनिया को खाने वाले पेड़ो की अनसुनी कहानी - Mysterious stories of man eating trees
Story of Nicaragua, Central America
यह घटना है अक्टूबर 1891 की. Review of Reviews के सपादक William Thomas ने अपनी पत्रिका Lucifer में एक आर्टिकल प्रकाशित किया था जिसमे Nicaragua में एक नरभक्षी पौधे का वर्णन किया गया था. इस पौधे को वहा के निवासी Devil's Snare यानि की फांसी का फंदा कहेकर पुकारते थे.

Mr. Dunstan जो पौधों और जीवो के एक बहोत बड़े खोजकर्ता थे. उन्होंने करीब 2 साल तक Central America के जंगलो में बिताए थे. उन्होंने Nicaragua क्षेत्र के पास के दलदल के किनारे पर मोजूद एक नरभक्षी पेड़ के बारे में बताया था.

"जब Mr. Dunstan उस दलदली इलाको में रीसर्च कर रहे थे तभी अचानक से किसी कुत्ते की चिल्लाने की आवाज आई. जब वे वहा पर पहोचे तो उन्होंने देखा की एक बड़े Vine(बेलो) वाले पेड़ ने इस कुत्ते को अपनी बेल से जकड रखा था और यह बेल उस कुत्ते को धीरे-धीरे और भी मजबूती से जकड़ती जाती थी. यह द्र्स्य काबिले वाले लोगो ने भी देखा था और इसको देखकर काबिले वाले लोग भी डर गए. जैसे ही इस पेड़ ने उस कुत्ते का सारा खून चूस लिया उसके बाद तुरंत ही इस कुत्ते को बेल ने छोड़ दिया."

लेकिन फिर इस घटना के कुछ दिनों बाद जब Mr. Dunstan की मौत हो जाती है तब इस घटना को भी कोई पुख्ता सबुत ना मिलने के कारन इसको एक कहानी बताकर बंध कर दिया गया.

दुनिया को खाने वाले पेड़ो की अनसुनी कहानी - Mysterious stories of man eating trees
Story of Cow-Eating Tree, Karnataka, India
यह बात है 18 अक्टूबर 2007 की जब भारत के कर्नाटक राज्य में मोजूद Patrame(पेट्रामे) नामक छोटे से गाँव में पुष्पलता नामकी एक लड़की जंगल से गुजर रही थी की तभी उसे एक अजीब नजारा देखने को मिला. उसने देखा की वहाँ पर मोजूद एक पेड़ एक गाय को पीछे की टांगो से उठाने की कोशिष कर रहा था. उस पेड़ की शाखाए गाय के पैरो को जकडकर उपर की और खींचने की कोशिस कर रही थी. यह नजारा देखकर पुष्पलता दोड़कर गाँव के लोगो को अपने साथ लेकर आई और गाँव के लोगो ने यह नजारा अपनी आँखों से देखा और उस गाय को उस पेड़ की चंगुल से छुड़ाया और उस पेड़ को जड समित काट दिया.

इस घटना के बाद पता चला की जब उनकी गाय जंगल में जाती थी तो उनकी कुछ गायो की पूंछ नहीं होती थो और कुछ की पीठ पर निशान होते थे, गाँव वाले इसको किसी जंगली जानवर का काम समजते थे लेकिन इस घटना के बाद पता चला की यह कारस्तान उस जंगली पेड़ का था. अब गाँव वालो ने इस पेड़ को काट दिया था इसी वजह से इस घटना के भी कोई पुख्ता सबुत नहीं मिले थे.

दोस्तों, अबतक एसे 6000 से भी ज्यादा पौधे हमको मिल चुके है जो मांसाहारी है लेकिन इन्सानों को खाने वाले पेड़-पौधे के बारे में अभी तक कोई भी पक्का सबुत नहीं मिला है. लेकिन हा, एसे कई सारे जानलेवा पेड़ जरुर मिले है जो अपने जहरिले रसायन से किसी भी इन्सान को मौत के घाट उतार देता है.

आजके आर्टिकल में बस इतना ही, अगर आपको इंसान को खाने वाले पेड़ो की अनसुनी कहानी - Mysterious stories of man eating trees आर्टिकल अच्छा लगा है तो इसको share जरुर करना. अगर आपको इस आर्टिकल के बारे में कोई सवाल या सुजाव हो तो बेसक कमेंट में जरुर बताना.

आपको यह जानकारी भी अच्छी लगेगी

  1. समुद्र कितना गहेरा है? समुद्र की उत्पति कैसे हुई थी?
  2. कोहिनूर हीरे का रहस्य और सफ़र
  3. अंडमान के सेंटिनल और जारवा आदिवासी कोन है?
  4. कुम्भलगढ़ किल्ले का इतिहास
  5. दुनिया के सबसे खतरनाक पुल कौनसे है?