क्या होगा अगर सूरज अचानक से गायब हो जाये? - What will Happen if the Sun Disappeared

क्या होगा अगर सूरज अचानक से ग़ायब हो जाये? | What would happen if Sun Disappeared?

हम सभी लोग भगवान को मानते है, कुदरत ने हमें एक बहुत ही अदभुत और सुंदर पृथ्वी दी है रहने के लिए और हमारी इस पृथ्वी के अस्तित्व के लिए सूरज एक बहुत ही खास है. सूरज की वजह से ही हमारी धरती पर मनुष्य का अस्तित्व संभव है क्योंकि बिना सूरज के धरती पर कोई भी वनस्पति, पेड़, पौधे, और यहाँ तक की बारिश भी नहीं होगी.

सूरज हमारे लिए कितना ख़ास है यह बात आपको इस आर्टिकल में मिलने वाली है की क्या होगा अगर सूरज अचानक से गायब हो जाये ? और कुछ दिनों तक वापस ही न आयें ? सूरज के बिना क्या पृथ्वी पर इन्सान जी पायेंगे? सूरज के बिना पृथ्वी का क्या हाल होगा? क्या सारी पृथ्वी तबाह हो जाएगी? सारे सवालों के जवाब आपको इस आर्टिकल में मिलने वाला है.
यह बात काल्पनिक ज़रुर है पर अगर असल में एसा हुआ तो क्या होगा इस बात को आप इस आर्टिकल में पढने वाले हो. यह आर्टिकल बहोत ही  रोमांचक होने वाला है तो आप इसको अंत तक जरुर पढना. चलिए शुरू करते है.

क्या होगा अगर सूरज अचानक  से गायब हो जाये?What will Happen if the Sun Disappeared

क्या होगा अगर सूरज अचानक  से ग़ायब हो जाये? | What would happen if Sun Disappeared?
सूरज ही वो चीज है जो अपनी गुर्त्वाकर्षण बल की मदद से धरती को अपनी चारो तरफ घुमाता रहेता है. लेकिन सूरज के गायब होजाने की वजह से सौरमंडल के सारे ग्रह अपनी जगह से हिल कर अलग-अलग दिशाओ में चले जाएगे. पृथ्वी भी बिना किसी के कंट्रोल के अंतरिक्ष में इधर उधर तैर ने लगेगी. धरती के एक side दिन का समय चल रहा होगा तो दूसरी side रात होगी और अभी भी पृथ्वी पर सब कुछ normal ही चल रहा होगा और हमको आसमान में सूरज भी नजर आयेगा. क्योंकि सूरज की लाइट को धरती पर पहोचने के लिए करीब 8 मिनट 20 सेकंड लगते है.

ब्रह्मांड के अद्भुत सितारे


8 मिनट 20 सेकंड बाद धरती पर अँधेरा छा जायेगा और लोगो को कुछ पता भी नहीं चलेगा की ये सब क्या हो रहा है. अचानक अँधेरा क्यों छा गया. दिन में भी आसमान के सारे तारे नजर आने लगेगे क्यूंकि दिन में सूरज की रौशनी की वजह से वो हमें नहीं दीखते है लेकिन अब सूरज ही गायब हो गया है तो सारे तारे भी नजर आयेगे. सुरज के गायब हो जाने की वजह से चाँद और बाकि सारे ग्रह जो सूरज की रौशनी के कारन प्रकशित होते थे वो सारे नजर नहीं आयेगे.

सूरज के गायब हो जाने की वजह से कुछ ही मिनिट में सारे पेड़-पौधे ओक्सीजन देना बंध करदेंगे. 1 घंटे के भीतर ही आधि दुनिया के लोगो यह समज ही नहीं आयेगा की आखिर यह सब क्या हो रहा है? जहा रात थी वहा तक भी यह खबर पहोच चुकी है की धरती के दिन वाले भाग में भी अचानक रात हो गई है. सारी दुनिया इस घटना से हेरान हो जाएगी.

पृथ्वी के वातावरण में धीरे धीरे नमी कम हो जाएगी और धरती धीरे धीरे ठंडी पड़ने लगेगी. क्योंकि धरती के अन्दर बहोत सारी ऊर्जा और ज्वालामुखी है इसकी वजह से यह अभी भी गर्म रहेगी और ज्यादा कुछ फर्क नहीं पड़ेगा. सूरज के गायब हो जाने के 24 घंटे बाद भी सूरज नहीं निकालता है, सब लोग सूरज के आने की उम्मीद कर रहे होगे. सुबह के 8-9 बज गए है फिर भी सूरज आ नहीं रहा है. पुरे देशो की सरकार भी कुछ नहीं कर पा रही है क्यूंकि इसका हल पाना इन्सानों के बस की बात नहीं है.

अब धीरे धीरे पृथ्वी का तापमान 8 डिग्री तक निचे गिर जायेगा. सारे पेड़-पौधे और जानवर इस बदलते मोसम के चलते कमजोर होने लगेंगे. इतना सब कुछ होने के बावजूद भी समुद्री जीवो पर इसका कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा. सूरज के बिना पृथ्वी के वातावरण में मोजूद ऊर्जा 3-4 दिन में ही खत्म हो जाएगी. और 1 week में ही पृथ्वी का वातारवरण माइनस में चला जायेगा जिसके चलते पृथ्वी पर मौजूद सारा पानी और लिक्विड बर्फ बन जायेगा.

पानी के बर्फ बन जाने की वजह से इंटरनेट भी बंध हो जायेगा क्योंकि सारे इंटरनेट के Optical Fibers cables समुद्र के अन्दर बिछाए होते है लेकिन पानी के बर्फ बन जाने की वजह से Optical Fibers cables भी नस्ट हो जायेंगे. इसके अलावा सारी दुनिया की बिजली भी चली जाएगी क्योंकि बिजली भी पानी की मदद से ही उत्पन्न होती है. इसी तरह दुनिया में सभी तरह के इलेक्ट्रॉनिक गैजेट काम करना बंध करदेंगे.

कुछ ही दिनों में पृथ्वी पर मोजूद ज्यादातर पेड़-पौधे नस्ट हो जाएंगे. इसके चलते शाकाहारी जानवर भी धीरे धीरे मार जाएगे. सारे आसमान के तारे भी अलग-अलग तरह से दिखने लगेगे क्यूंकि पृथ्वी अंतरिक्ष में तैरते तैरते आगे निकल चुकी होंगी. एक महीने बाद धरती पर तापमान -40 डीग्री तक निचे चला जायेगा और हमारी नीले रंग की पृथ्वी बर्फ की वजह अंतरिक्ष से सफ़ेद रंग की दिखने लगेगी. धरती के सारे पेड़-पौधे  और जानवर खत्म हो जाएंगे. समुद्र के जम जाने की वजह से सारे समुद्री जीव भी मर जाएंगे. सिर्फ ज्वालामुखी के आसपास वाली नदियो में ही पानी बिना जमे रहेगा.

1-2 महीनो में ही पृथ्वी पर से मानव सहित सारे इन्सानों का अस्तित्व मिट जायेगा. धरती पर मौजूद सारे बिल्डिंग बर्फ से जम जाएगी. चारो तरफ बर्फ की बड़ी बड़ी चट्टानें ही नजर आएगी. भले ही पृथ्वी के ऊपर का तापमान -40 से अधिक हो गया होगा फिर भी पृथ्वी के निचले हिस्से में इसका भूतापमान अभी भी काम कर रहा होगा जिसके चलते कुछ समुद्री जिव जो बहोत ही गहेराइ में रहेते है वो जीवित रहेगे.


लेकिन बिना सूरज के गुरुत्वाकर्षण बल के कारन पृथ्वी तेजी से अंतरीक्ष में आगे बढ़ रही होगी और संभव हे की ब्लैकहोल के गुरुत्वाकर्षण बल के कारन सारी की सारी पृथ्वी ब्लैक होल में समा जाएगी और कुछ ही सेकंड में सारी पृथ्वी नस्ट हो जाएगी. मतलब बिना सूरज के पृथ्वी कुछ ही महीनो में तबाह हो जाएगी. या तो वो किसी क्षुद्र ग्रह से टकरा जाएगी या ब्लैक होल का खोराक बनेगी लेकिन इसका नस्ट होना तो तय ही है.
यह भी पढ़े:-
  1. क्या सच में धरती अंत के करीब जा रही है?
  2. क्या होगा अगर सिर्फ 5 सेकंड के लिए ओक्सीजन गायब हो जाये
  3. क्या होगा अगर धरती का सारा कचरा ज्वालामुखी में डाल दिया जाये
  4. कितना बड़ा है हमारा ब्रह्मांड
उम्मीद है दोस्तों, आपको क्या होगा अगर सूरज अचानक  से गायब हो जाये?What will Happen if the Sun Disappeared आर्टिकल पसंद आया होगा, आप एसी ही मजेदार पोस्ट पढने के लिए इस ब्लॉग को सब्सक्राइब कर सकते है या हमें फेसबुक पेज पर फॉलो कर सकते है.


TAG:- 
क्या होगा अगर सूरज अचानक से गायब हो जाये?, अगर सूरज गायब हो जाये तो क्या होगा?, क्या होगा अगर सूरज गया हो जाये, यदि सूरज न निकले तो क्या होगा, अगर सूरज नहीं होगा तो क्या होगा, सूरज के गायब होने से पृथ्वी का क्या होगा?



6 comments:

Powered by Blogger.