How bad fires in Australia in Hindi ? - ऑस्ट्रेलिया के जंगल में लगी आग का रहस्य और जानकारी

क्या होगा यदि हमारी इस दुनिया से जंगल पूरी तरह से खत्म हो जाए? और क्या होगा यदि हमारे इस ग्रह से सभी वन्यजीवों नष्ट हो जाए? क्या इन प्राकुतिक जरूरतों के बिना हम इन्सान जीवित रहे सकेंगे? बिलकुल नहीं, क्यूंकि हमारा जीने का आधार ही यह जंगल और वन्यजीव है जिनके बिना हम थोड़ी देर भी जीवित नहीं रहे पाएंगे.

लेकिन आज ऑस्ट्रेलिया के जंगल में भयानक आग लगी हुई है जो सितम्बर 2019 से चली आ रही है और धीरे-धीरे आगे बढती ही जा रही है. इस आग के चलते कई सारे पेड़-पौधे, हजारो की संख्या में वन्यजीव जल कर खाक हो गए है. इतना ही नहीं इस आग से निकलने वाला धुआ पुरे ऑस्ट्रेलिया में फ़ैल रहा है.


आज के इस आर्टिकल में हम बात करने वाले है की ऑस्ट्रेलिया में आग लगने की वजह क्या है? इस आग से कितना नुकसान हुआ है? क्या यह आग आगे बढ़ रही है? यह सभी बातो के बारे में आपको आजे के आर्टिकल में जानने को मिलेगा.

  1. ऑस्ट्रेलिया में आग लगने की वजह क्या है?
  2. आग कौनसे इलाको में लगी है? Where are the fires?
  3. कितना नुकसान हुआ है? What has been the damages so far ?
  4. कितने लोगो और वन्यजीवो की जान गई?
  5. आग को शांत करने के लिए क्या कदम उठाए जा रहे है? what is being done for stop the fire?
चलिए अब जानते है सभी मुद्दों के बारे में विस्तार से.

ऑस्ट्रेलिया में आग लगने की वजह क्या है? - What is the Cause of fire in Australia in Hindi ?

ऑस्ट्रेलिया में आग लगने की वजह क्या है?
ऑस्ट्रेलिया के जंगल में सितम्बर 2019 से चल रही आग के पीछे की वजह रेकोर्ड तोड़ गर्मी और हवाओ के कारन लगी थी एसा बताया जा रहा है. इसके पीछे ग्लोबल वोर्मींग जिम्मेदार है. पिछले साल ऑस्ट्रेलिया में गर्मियों के दौरान तापमान 40 डिग्री के पार पहोच गया था और यह आग भी इस तापमान का ही नतीजा है.

एसा सिर्फ ऑस्ट्रेलिया के जंगल में पहेली बार नहीं हुआ है, इसके पहेले भी जंगल में आग लगी हुई थी लेकिन इस बार आग ने भयानक रूप हांसिल कर लिया है. इस आग के पीछे कुछ इन्सानों को भी जिम्मेदार ठहेराया जाता है और NSW पुलिस ने करीब 183 लोगो के खिलाफ जानबुझकर आग को फ़ैलाने का आरोप लगाया हुआ है.



आग कौनसे इलाको में लगी है? Where are the fires?
ऑस्ट्रेलिया के ज्यादातर इलाके आग की जपेत में आ चुके है लेकिन सबसे ज्यादा आग न्यू साउथ वेल्स में आगी हुई है. इसके अलावा ऑस्ट्रेलिया के बड़े शहर सिडनी और मेलबोर्न भी इस आग से काफी प्रभावित हुए है.

विक्टोरिया के जंगल में भी भारी मात्रा में आग लगी हुई है. यह आग हररोज नए हिस्से में फैलती जा रही है. इस तरह से यह आग ऑस्ट्रेलिया के लगभग 150 अलग-अलग जगहों पर जंगलो को जलाती हुई शहरों की तरफ आगे बढ़ रही है.

कितना नुकसान हुआ है? What has been the damages so far ?
इस आग के कारन अब तो लगभग 2 हजार घर पूरी तरह से नष्ट हो चुके है. 350 से भी ज्यादा घरो को नुकसान पंहुचा है. लगभग 70 हजार लोगो को बेघर होकर दूसरी जगह पर जाना पड़ा है. कुल मिलाकर ऑस्ट्रेलिया का लगभग 7.3 मिलियन हेक्टर क्षेत्र जल क्र राख हो गया है.

एसी ही भयानक आग ब्राजील क्षेत्र के अमेज़न जंगल में लगी हुई थी जिसने करीब 7 मिलयन हेक्टर के क्षेत्र को जला दिया था.


ऑस्ट्रेलिया में आग लगने की वजह क्या है? - What is the Cause of fire in Australia in Hindi ?

कितने लोगो और वन्यजीवो की जान गई?
ऑस्ट्रेलिया के मीडिया रिपोर्ट के अनुसार इस आग के कारन अबतक लगभग 27 लोगो की जान जा चुकी है. बात करे वन्यजीवों की मेडिया रिपोर्ट के अनुसार लगभग half billion वन्यजीवों को भारी क्षति पहोची है और कई करोड़ वन्य जिव मरे गए है जिसमे रेंगने वाले जिव और स्तनधारी जिव भी सामिल थे.

पूरी दुनिया में सिर्फ ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में ही पाए जाने वाले कोआला भालू को बहोत ही भारी मात्रा में क्षति पहोची है. पुरे ऑस्ट्रेलिया से कोआला की लगभग एक तिहाई जनसँख्या इस आग में जलकर खाक हो गई है.

दक्षिणी ऑस्ट्रेलिया के कंगारू द्वीप के जंगल में लगी आग की वजह से कोआला की आधी आबादी खत्म हो चुकी है. आग लगने से पहेले इस क्षेत्र के पेड़ो पर करीब 50 हजार कोआला थे लेकिन आग के कारन ज्यादातर जिव आग की लपेट में आ चुके थे.

आग को शांत करने के लिए क्या कदम उठाए जा रहे है? what is being done for stop the fire?
देश के और राज्य के संघीय अधिकारीयों पिछले 4 महीनो से आग को अपने काबू में करने की कोशिस कर रहे है. फ़िलहाल विक्टोरिया शहर को आपातकलित घोषित किया जा चूका है. 2 हजार से भी अधिक Firefighters आग को काबू में करने के लिए काम कर रहे है.

इसके अलावा न्यूजीलैंड, अमेरिका और कनाडा से भी और ज्यादा firefighters भेजे गए है. सेना के जवान, वायु सेना और नौसेना के जवान भी इस आग को काबू में करने के लिए प्रयत्न कर रहे है.

वैज्ञानिको के पिछले कई सालो से चेतावनी दे रखी थी की जिस तरह से हम मनुष्य पेड़ को काट रहे है इसके चलते आगमि समय में भी कई अन्य तरह से भी प्राकुतिक आपदाए आ सकती है.

यह भी पढ़े:

  1. क्या होगा यदि पृथ्वी का सारा इंधन खत्म हो जाए?
  2. क्या होगा यदि धरती की सारी बर्फ पिगल जाए?
  3. क्या होगा यदि पृथ्वी पर के सारे पेड़ काट दिए जाए?
  4. क्या होगा अगर सूरज अचानक गायब हो जाए?